mgnrega महात्मा गांधी नरेगा योजना
mgnrega महात्मा गांधी नरेगा योजना

2 लाख 25 हजार 227 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया

राजनांदगांव 01 जून 2021

 महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत जिले में कोरोना संक्रमण के कारण लॉकडाउन के दौरान श्रमिकों को रोजगार देने की दिशा में प्रभावी कार्य किए जा रहे हैं। कलेक्टर श्री टोपेश्वर वर्मा के मार्गदर्शन एवं जिला पंचायत सीईओ श्री अजीत वसंत के निर्देशन में श्रमिकों के हित में कारगर कार्य किए जा रहे हैं। जिसके कारण आज श्रमिकों को रोजगार देने में राजनांदगांव जिला प्रदेश में पहले नंबर पर है। राजनांदगांव जिला पंचायत द्वारा 4808 प्रस्तावित कार्यों में 2 लाख 25 हजार 227 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। तालाब गहरीकरण, डबरी निर्माण, कुंआ निर्माण, नरवा बंधान, शेड निर्माण सहित विभिन्न कार्यों में मनरेगा के तहत श्रमिक कार्य कर रहे हैं।

कोविड-19 की विषम परिस्थितियों में लॉकडाउन के दौरान श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराया गया। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए श्रमिकों द्वारा तेजी से कार्य किया जा रहा है। अंबागढ़ विकासखंड के  279 कार्यों में 18 हजार 101 श्रमिकों को रोजगार दिया गया। इसी तरह छुईखदान विकासखंड के 669 कार्यों में 29 हजार 906 श्रमिक, छुरिया विकासखंड के 499 कार्यों में 33 हजार 792 श्रमिक, डोंगरगांव विकासखंड के 469 कार्यों में 15 हजार 907 श्रमिक, डोंगरगांव विकासखंड के 976 कार्यों में 29 हजार 332 श्रमिक, खैरागढ़ विकासखंड के 637 कार्यों में 35 हजार 880 श्रमिक, मानपुर विकासखंड के 327 कार्यों में 20 हजार 50 श्रमिक, मोहला विकासखंड के 236 कार्यों में 14 हजार 762 श्रमिक तथा राजनांदगांव विकासखंड के 716 कार्यों में 27 हजार 497 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया।

इसे भी पढ़ें
दुर्ग : दादी माँ जब स्वस्थ घर लौटती हैं तो घर में ढोल नगाड़े बजते हैं : 92 साल और 90 साल की दो बुजुर्ग महिलाएं जिन्होंने कोविड को हराया और अब पूरी तरह स्वस्थ होकर डिस्चार्ज होकर घर पहुँची

क्रमांक 02 – उषा किरण

Source: http://dprcg.gov.in/