रायपुर । कृषि एवं जल संसाधन मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने कहा है कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में खेल का बढ़ावा देने के लिए आवश्यक अधोसंरचना का लगातार निर्माण एवं विकास कार्य कराने के साथ ही खिलाड़ियों को प्रशिक्षण एवं आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करा रही है। राज्य में हॉकी, कबड्डी, एथेलेटिक्स, तीरंदाजी और फुटबाल के खेल को बढ़ावा देने के लिए रायपुर और बिलासपुर में सात अकादमी शुरू की गई है। यहां खिलाड़ियों को प्रशिक्षण की बेहतर व्यवस्था के साथ ही उन्हें आवासीय सुविधा भी मिलेगी। मंत्री श्री चौबे ने बेमेतरा जिला मुख्यालय में 21वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीडा प्रतियोगिता का समापन समारोह को मुख्य अतिथि की आसंदी से सम्बोधित कर रहे थे। समापन कार्यक्रम बेसिक स्कूल मैदान बेमेतरा में हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता विधायक बेमेतरा श्री आशीष कुमार छाबड़ा ने की। 

मंत्री श्री चौबे ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल राज्य में खेल को बढ़ावा देने के लिए खेल प्राधिकरण के गठन की भी पहल की है। इस मौके पर उन्होंने स्पर्धा के विजेता एवं प्रतिभागी खिलाड़ियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि खेल मे हार का सामना करने वाले खिलाड़ियों को निराश नहीं होना चाहिए। अपने खेल कौशल को बेहतर बनाने के लिए दोगुने उत्साह, लगन और मेहनत करनी चाहिए, इससे आपको विजेता बनने से कोई रोक नहीं सकता। उन्होंने खेल का मैदान वास्तव में हमें जीवन में आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार करता है। खिलाड़ी कभी भी निराश नहीं होता और हर परिस्थिति में जीत के लिए संघर्ष करता है। संघर्ष से ही सफलता मिलती है। 

कार्यक्रम को विधायक श्री छाबड़ा और कलेक्टर श्री विलास भोसकर संदीपान ने सम्बोधित करते हुए कहा कि खेल मे हार-जीत लगी रहती है। खिलाड़ियों को अपने खेल कौशल में निखार लाने के लिए हमेशा अभ्यास करते रहना चाहिए। यही सफलता की मूल मंत्र है। उन्होंने कहा कि खेल का जीवन में बहुत महत्व है। स्वस्थ्य शरीर में ही स्वस्थ्य मस्तिष्क का वास होता है। कार्यक्रम के प्रारंभ में शिक्षा अधिकारी श्री अरविंद मिश्रा ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। चार दिवसीय शालेय स्पर्धा मे व्हाली बाल, सॉफ्ट बाल एवं फील्ड आर्चरी के खेल का आयोजन किया गया, जिसमें छ.ग. के पांच जोन दुर्ग, बिलासपुर, सरगुजा, रायपुर एवं बस्तर के लगभग 560 खिलाड़ी लगभग 70 ऑफिसियल्स में भाग लिया। कार्यक्रम में ज्ञानोदय पब्लिक स्कूल के छात्राओं ने सरगुजिहा गीत महुआ झरे….की आकर्षक प्रस्तुति दी। स्पर्धा में ओवर ऑल चैंम्पियन दुर्ग संभाग रहा।  कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि नगर पालिका अध्यक्ष बेमेतरा श्रीमती शकुंतला मंगत साहू एवं श्री बंशी पटेल सहित क्षेत्रीय जनप्रतिनिधिगण, त्रि-स्तरीय पंचायतों के पदाधिकारी एवं गणमान्य नागरिकगण तथा सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

न्यूज़ अपडेट