राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ पाठ्यपुस्तक निगम ने जिले के सभी अशासकीय शालाओं में अध्ययनरत विद्यार्थियों के लिए नि:शुल्क पाठ्यपुस्तक वितरण के कार्य को सफलतापूर्वक संपादन के लिए विकासखंडवार कार्ययोजना बनाई है। जिले के अशासकीय विद्यालयों में नि:शुल्क पाठ्यपुस्तक का वितरण प्रारंभ किया गया है। इसके अंतर्गत डोंगरगढ़ विकासखंड में 23 एवं 24 जुलाई को नि:शुल्क पाठ्यपुस्तक का वितरण किया जाएगा। इसी तरह राजनांदगांव विकासखंड में 29 जुलाई से 1 अगस्त तक, छुईखदान विकासखंड में 6 एवं 7 अगस्त को, खैरागढ़ विकासखंड में 9 एवं 10 अगस्त को, अंबागढ़ चौकी विकासखंड में 13 अगस्त को, मानपुर एवं मोहला विकासखंड में 14 अगस्त को, छुरिया विकासखंड में 17 अगस्त को तथा डोंगरगांव विकासखंड में 18 अगस्त को अशासकीय विद्यालयों में नि:शुल्क पाठ्यपुस्तक का वितरण किया जाएगा।
आपको बता दें कि स्कूल शिक्षा विभाग ने प्रदेश के सभी अशासकीय गैर अनुदान प्राप्त विद्यालयों के विद्यार्थियों के लिए नि:शुल्क पाठ्य पुस्तकों की मांग पर छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम द्वारा सीधे डिपो से पुस्तकें वितरित करने के निर्देश दिए हैं। शिक्षा सत्र 2021-22 के लिए अशासकीय विद्यालयों को कक्षा पहली से दसवीं तक हिन्दी और अंग्रेजी माध्यमों को पाठ्य पुस्तकों का वितरण छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के छह स्थायी पुस्तक भण्डार- रायपुर, राजनांदगांव, जगदलपुर, बिलासपुर, रायगढ़ और अंबिकापुर से किया जाएगा। पाठ्य पुस्तकों का वितरण रविवार और अन्य शासकीय अवकाश के दिनों में भी होगा। निर्धारित समय-सारणी के अनुसार पाठ्य पुस्तक निगम के डिपो से जिले के विकासखण्डों में स्कूलों को पुस्तक वितरण करने का कार्य 21 जुलाई से प्रारंभ करने के निर्देश दिए गए हैं।
स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा अशासकीय स्कूलों को पुस्तक उपलब्ध कराने की विकासखण्डवार कार्ययोजना, डिपो प्रभारियों के नाम और मोबाइल नम्बर की जानकारी संभागीय संयुक्त संचालकों और जिला शिक्षा अधिकारियों को उपलब्ध करा दी गई है। कार्ययोजना अनुसार निर्धारित तिथि पर यदि कोई अशासकीय विद्यालय पाठ्य पुस्तक प्राप्त करने संबंधित डिपो में उपस्थित नहीं होते हैं, तो ऐसी स्थिति में उस विद्यालय या विद्यालयों को कार्ययोजना पूर्ण होने के उपरांत तिथि निर्धारित कर पृथक से सूचित किया जाएगा। कार्ययोजना अनुसार निर्धारित तिथि पर डिपो द्वारा किन्ही कारणों या परिस्थितियों की वजह से यदि पाठ्य पुस्तकें प्रदाय (वितरण) नहीं की जा सकेंगी, तो ऐसी स्थिति में संबंधित विद्यालय या विद्यालयों को निर्धारित तिथि के अगले दिन पाठ्य पुस्तक प्रदाय की जाएगी। अशासकीय स्कूलों की स्कूलवार जानकारी पाठ्य पुस्तक निगम द्वारा निर्धारित प्रपत्र में जिला शिक्षा अधिकारियों द्वारा उपलब्ध नहीं कराने के कारण शिक्षा सत्र 2019-20 में प्रदाय किए गए अशासकीय विद्यालयों की संख्या को कार्ययोजना में शामिल किया गया है। विद्यालयों की संख्या में यदि किसी प्रकार का परिवर्तन आता है, तो उसकी जानकारी पाठ्य पुस्तक निगम मुख्यालय में जिला शिक्षा अधिकारी तत्काल उपलब्ध कराएं। विलंब की स्थिति में समस्त जवाबदारी संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी की होगी। अशासकीय विद्यालयों में पाठ्य पुस्तकों के वितरण कार्य के सुव्यवस्थिति संचालन के लिए पाठ्य पुस्तक निगम मुख्यालयों में वितरण, नोडल अधिकारी श्री रेखराज चौरागड़े (8959904907), नार्थ जोन (बिलासपुर, रायगढ़, अंबिकापुर) के प्रभारी अधिकारी डॉ. प्रदीप कुमार शर्मा (9827914888), साउथ जोन (रायपुर, राजनांदगांव, जगदलपुर) के प्रभारी अधिकारी श्री राजेन्द्र सिंह (9406011119) समन्वय के रूप में कार्य करेंगे।

इसे भी पढ़ें  राजनांदगांव से अलग होकर बनने वाले नये जिले का नाम मोहला-मानपुर-चौकी होगा     

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *