Sitamani Temple
Sitamani Temple

Sitamani is situated in Korba city near the railway station. There are three caves that have been formed by cutting the rocks. Among these caves, one of the caves contains ancient idols of Ram, Sita, and Laxman. It is believed that when Rama was lived here during his Vanvas time. There are two footprints found. The people believed that these are the feet of Sita. There is an ancient stone inscription where there is mention of Vedputra Shrivardhan, a resident of Ashtadwar District. There is a big Ram Sita temple on the left side of these caves.

हरचौका: मवाई नदी के तट पर स्थित गुफा को काट कर 17 कक्ष बनाये गए है। जिनमे शिवलिंग स्थापित है। इस स्थान को हरचौका ( रसोई ) के नाम से जाना जाता है।

घाघरा: हरचौका से निकल कर रापा नदी के तट पर सीतामढ़ी घाघरा पहुंचे, माना जाता है। यहाँ नदी तट से करीब 20 फिट ऊपर 4 कक्षो वाली गुफा मौजूद है जिसके बीच में शिवलिंग स्थापित है।

भगवान श्री राम घाघरा से निकल कर कोटाडोला पहुचे थे। कोटाडोला अम्बिकापुर के पास स्थित है।

कोटडोला से नेउर नदी के तट पर स्थित सीतामढ़ी छतौड़ा आश्रम पहुंचे यहाँ भी एक प्रकृतिक् गुफा है जिसे “शिद्ध बाबा आश्रम” के नाम से जाना जाता है। यहाँ से निकल कर अमृतधारा जलप्रपात के पास स्थित गुफा में महर्षि विश्रवा से भेंट किया।

Photo Gallery

How to Reach:

By Air

Swami Vivekanand Airport Raipur is the nearest airport. (200 KM)

By Train

Korba Railway station, 2 KM.

By Road

The nearest Bus stand is Korba which is around 2 KM.

इसे भी पढ़ें  शिक्षा और स्वास्थ्य के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में प्राथमिकता से हो विकास के काम

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *