अनुकंपा नियुक्ति - anukampa
अनुकंपा नियुक्ति - anukampa

7 की नियुक्ति स्वच्छता पर्यवेक्षक के पद पर और 3 नियुक्ति भृत्य के पद पर

दुर्ग 03 जून 2021

 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा अनुकंपा नियुक्ति में 31 मई तक दस प्रतिशत की सीमा में दी गई शिथिलता के चलते भिलाई निगम में दस लोगों की नियुक्ति का रास्ता खुल गया। नगर निगम आयुक्त श्री ऋतुराज रघुवंशी ने आज मृतक शासकीय सेवकों के सात आश्रितों को स्वच्छता पर्यवेक्षक पद पर तथा तीन आश्रितों को भृत्य पद पर नियुक्ति दी। आयुक्त ने इस अवसर पर इन्हें उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं भी दी।

अनुकंपा नियुक्ति प्राप्त करने वाले श्री पलाश वैद्य ने बताया कि उनके पिता स्वर्गीय श्री भाऊराम वैद्य निगम में अनुरेखक पद पर कार्यरत थे। उनके नहीं रहने से परिवार को मानसिक और आर्थिक क्षति हुई। शासन के अनुकंपा नियुक्ति की सीमा को दस फीसदी से शिथिल करने के निर्णय का सभी को लाभ हुआ है और जिन लोगों की नियुक्तियाँ इस वजह से प्रभावित हो रही थीं। उनके लिए भी रास्ता खुल गया। पलाश ने बताया कि उन्हें स्वच्छता पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्ति मिली है।

इसे भी पढ़ें
रायपुर : मुख्यमंत्री का छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ ने आभार जताया :  दिवंगत शिक्षकों के आश्रितों को अनुकम्पा नियुक्ति देना सच्ची श्रद्धांजलि

वे पूरी लगन से अपना काम करेंगे। श्री अतुल कुमार यादव ने बताया कि उनके पिता स्वर्गीय श्री अनुज राम यादव सहायक ग्रेड 2 के रूप में कार्यरत थे। आज उनकी जगह पर स्वच्छता पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्ति मिली है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के 31 मई तक समय सीमा को शिथिल किये जाने के निर्णय से बहुत से लोगों को अनुकंपा नियुक्ति मिल पाई है। कुमारी माया बीके ने बताया कि उनके पिता हेल्पर थे। हमने अनुकंपा नियुक्ति के लिए आवेदन लगाया था। मुख्यमंत्री के निर्णय से आवेदन पर बहुत जल्द कार्रवाई हो गई, जिससे हम सभी बहुत राहत महसूस कर रहे हैं।


इन्हें मिली नियुक्ति- स्वच्छता पर्यवेक्षक पद पर श्री विनय कुमार मेश्राम, कुमारी बीके माया, श्री तोषेन्द्र कुमार साहू, श्री राजेश कुमार डाहरे, श्री टीकेंद्र कुमार साहू, श्री पलाश वैद्य, श्री अतुल कुमार यादव को नियुक्ति दी गई है। इसी तरह श्री रोशनलाल टंडन, श्री नारायण वर्मा, श्रीमती ज्योति मसीह को भृत्य पद पर नियुक्ति दी गई है।

इसे भी पढ़ें
बेमेतरा : कोरोना ने छीनी पति की जिन्दगी, सहारा बनी अनुकम्पा नियुक्ति : शासन के फैसले से नीतू को मिली सहायक शिक्षक की नौकरी

Source: http://dprcg.gov.in/