वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना Tree Plantation
वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना Tree Plantation

-प्रभारी सचिव ने दिये निर्देश, पेड़ कटाई की अनुमति प्रक्रिया सरल होने से बहुत से किसान प्लांटेशन के लिए आगे बढ़ेंगे
-उन्होंने कहा कि फसल वैविध्य को बढ़ावा देने का सुनहरा मौका

दुर्ग 01 जून 2021

किसान प्लांटेशन की ओर बढ़ें, सागौन एवं बांस जैसे पौधे भी अपने खेतों में लगाएं, इसके लिए पेड़ कटाई की अनुमति प्रक्रिया सरलीकृत की जाएगी। प्रभारी सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल परदेसी ने यह निर्देश पाटन ब्लाक में अधिकारियों की बैठक में दिये। उन्होंने कहा कि पेड़ कटाई के लिए अनुमति की अभी की प्रक्रिया थोड़ी जटिल है इससे किसान प्लांटेशन करने से थोड़ा हिचकते हैं। प्रक्रिया सरलीकृत होने से किसान बड़े पैमाने पर राजीव गांधी किसान न्याय योजना का लाभ लेने आगे आएंगे। श्री परदेसी ने कहा कि किसान वैविध्य की दिशा में अब आगे बढ़ना चाह रहे हैं। किसान राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत तीनों तरह से फसल ले सकते हैं अर्थात धान के बदले दलहन-तिलहन की फसल ले सकते हैं फलदार पेड़ लगा सकते हैं अथवा इमारती लकड़ी के लिए भी प्लांटेशन कर सकते हैं। अपनी फसल के कुछ हिस्सों में इस तरह से अलग-अलग तरह की खेती करने से शासन की योजना का लाभ भी बेहतर मिल सकेगा और इन फसलों में रेट भी अच्छा आएगा। बीमा की सुविधा उपलब्ध होने से किसी तरह का जोखिम नहीं रहेगा।

कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने बताया कि जिले में तीनों ब्लाकों में सभी स्थानीय अमले को योजना के संबंध में लोगों को जानकारी देने तथा हितग्राहियों का चिन्हांकन करने निर्देशित किया गया है। कृषि विस्तार अधिकारी, पटवारी, रोजगार सहायक, बीट गार्ड आदि का दल ग्रामीणों से मिलकर योजना की जानकारी देकर हितग्राहियों का चिन्हांकन कर रहा है। प्रभारी सचिव ने खाद-बीज की स्थिति की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि किसान फसल वैविध्य की ओर झुकेंगे तो उनकी जरूरतों के मुताबिक गुणवत्तापूर्वक खाद-बीज आदि सुनिश्चित कर लें। उन्होंने कंपोस्ट खाद के विक्रय की स्थिति तथा नालों के जीर्णोद्धार पर हो रहे कार्यों की जानकारी भी ली। बैठक में मुख्यमंत्री के ओएसडी श्री आशीष वर्मा भी उपस्थित थे। इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ श्री सच्चिदानंद आलोक, एसडीएम श्री विपुल गुप्ता, जनपद सीईओ श्री मनीष साहू भी उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें  दुर्ग : कोरोना महामारी में अपने माता-पिता को खो चुके बेसहारा बच्चों को निःशुल्क शिक्षा की योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के कलेक्टर ने दिए निर्देश

सुगंधित धान के लिए भी करें प्रेरित, बसना से मंगवाएंगे बीज- प्रभारी सचिव ने योजना के क्रियान्वयन की स्थिति के बारे में पूछा। अधिकारियों ने बताया कि किसान सुगंधित धान के बारे में सबसे ज्यादा पूछ रहे हैं। इसका कारण यह है कि सुगंधित धान का रेट भी अच्छा है और घर में भी इस्तेमाल करने के लिए किसान इसे लगाना चाह रहे हैं। प्रभारी सचिव ने कहा कि छोटे किसानों के साथ ही बड़े किसानों को भी फसल वैविध्य के लिए तैयार करना चाहिए क्योंकि अधिक खेत होने की वजह से वे फसल वैविध्य के सभी रूपों को अपना सकते हैं।

निर्माण कार्य भी देखें-  प्रभारी सचिव ने पाटन ब्लाक में चल रहे विविध निर्माण कार्यों को देखा। उन्होंने स्कूलों के अलावा लिफ्ट इरीगेशन की योजनाओं को एवं जलजीवन मिशन की योजनाओं के क्रियान्वयन पर नजर डाली। उन्होंने निर्माण कार्यों को तेजी से और गुणवत्तापूर्वक पूरा करने निर्देश दिये।

Source: http://dprcg.gov.in/