खारा रिज़र्व वन (Khaara Reserve Forest, Rajnandgaon
खारा रिज़र्व वन (Khaara Reserve Forest, Rajnandgaon

Khaara Reserve Forest

खारा रिज़र्व वन: एक संरक्षित वन (जिसे आरक्षित वन भी कहा जाता है) या भारत में संरक्षित वन एक ऐसे नियम हैं जो जंगल को संरक्षण की एक निश्चित डिग्री प्रदान करते हैं। यह शब्द ब्रिटिश भारत में ब्रिटिश वन अधिनियम, 1927 में ब्रिटिश भारत में ब्रिटिश ताज के तहत सुरक्षा प्रदान करने वाले कुछ वनों को संदर्भित करने के लिए पहली बार भारतीय वन अधिनियम, 1927 में पेश किया गया था, लेकिन इससे जुड़ी शिकायतें नहीं थीं। भारतीय आजादी के बाद, भारत सरकार ने मौजूदा आरक्षित और संरक्षित वनों की स्थिति को बनाए रखा, साथ ही नए आरक्षित और संरक्षित वनों को शामिल किया। भारत के राजनीतिक एकीकरण के दौरान भारत सरकार के अधिकार क्षेत्र में आने वाली बड़ी संख्या में वनों को प्रारंभ में इस तरह की सुरक्षा प्रदान की गई थी। खारा एक आरक्षित वन है ।

भारत के राजनीतिक एकीकरण के दौरान भारत सरकार के अधिकार क्षेत्र में आने वाली बड़ी संख्या में वनों को प्रारंभ में इस तरह की सुरक्षा प्रदान की गई थी। खारा एक आरक्षित वन है ।

About Khaara Reserve Forest

A reserved forest (also called reserve forest) or a protected forest in India are terms denoting forests accorded a certain degree of protection. The term was first introduced in the Indian Forest Act, 1927 in British India, to refer to certain forests granted protection under the British crown in British India, but not associated with suzerainty. After Indian independence, the Government of India retained the status of the existing reserved and protected forests, as well as incorporating new reserved and protected forests. A large number of forests that came under the jurisdiction of the Government of India during the political integration of India were initially granted such protection. Khara is a reserve forest. Read on Rajnanandgaon District Website

इसे भी पढ़ें  लोक सेवा केन्द्र : जिले ने किया प्रभावी कार्य

How to Reach Khaara Reserve Forest:

By Air

राजनांदगांव शहर से सबसे नज़दीक का हवाई अड्डा स्वामी विवेकानंद अन्तराष्ट्रीय हवाई अड्डा, माना , नया रायपुर है जो यहां से महज 72 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है ।

The nearest Airport is Just 72 km away from the city is Swami Vivekananda International Airport, Raipur, Chhattisgarh.

By Train

राजनांदगांव शहर मुंबई-हावरा मुख्य रेल मार्ग में स्थित है । राजनांदगांव से भारत के अन्य बड़े शहरों ( जैसे दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बंगलोर, अहमदाबाद, रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग-भिलाई इत्यादि ) के लिए रेल गाड़ी पकड़ी जा सकती है ।

There are regular trains from other major cities (like New Delhi, Mumbai, Kolkata, Chennai, Banglore, Ahmedabad, Raipur, etc) of the country to Rajnandgaon. The Railway Station’s name is – Raj Nandgaon(RJN).

By Road

राजनांदगांव शहर राष्ट्रीय राज्य मार्ग क्रमांक 6 पर स्थित है । यह छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से मात्र 72 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है साथ ही नागपुर (महाराष्ट्र) से इसकी दूरी 212 किलोमीटर है ।

Rajanandgaon city is connected to the National Highway. This city is located on NH 6. It is 72 km away from Chhattisgarh’s capital Raipur and is 212 km away from Nagpur(Maharashtra).

इसे भी पढ़ें  Ghatarani Temple (घटारानी मंदिर), Gariaband


न्यूज़ अपडेट

न्यूज़ अपडेट

IPL Schedule 2022 Announced

The schedule for the Indian Premier League 2022 (IPL 2022) season has been announced, with Chennai Super Kings set to face Kolkata Knight Riders in the opener at the Wankhede Stadium in Mumbai on March 26. The BCCI announced the full scheduled in a press release on Sunday. “The Board of Control for Cricket in India…

रेडी टू ईट निर्माण

रायपुर। छत्तीसगढ़ में रेडी टू ईट पोषण आहार निर्माण और वितरण व्यवस्था के संबंध में वर्तमान में जारी व्यवस्था मार्च 2022 तक लागू रहेगी। राज्य सरकार द्वारा इस संबंध में जारी की गई नई पॉलिसी का क्रियान्वयन एक फरवरी 2022 से होना था, इसेे अब एक अप्रैल 2022 तक के लिए बढ़ा दिया गया है।…

कोदो, कुटकी और रागी की खरीदी अब 15 फरवरी तक

रायपुर। छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर कोदो, कुटकी और रागी फसलों की खरीदी के लिए समयावधि अब 15 फरवरी 2022 तक बढ़ा दी गई है। इसके पहले इन फसलों की खरीदी के लिए 31 जनवरी तक की तिथि निर्धारित थी। गौरतलब है कि राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में वर्षा होने के कारण मिंजाई में हुई…

मानवीय हस्तक्षेप मुक्त होगी नल कनेक्शन प्रक्रिया

रायपुर। गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की थीम पर काम करते हुए छत्तीसगढ़ शासन नागरिकों की सुविधाओं का लगातार विस्तार कर रही है। आनलाइन सेवाओं की वजह से नागरिकों के काम घर बैठे हो रहे हैं। इसी कड़ी में अब नल कनेक्शन के लिए भी नागरिकों को नगरीय निकाय कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने होंगे। आम नागरिकों…

इसे भी पढ़ें  लोक सेवा केन्द्र : जिले ने किया प्रभावी कार्य

मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना 21 फरवरी तक सभी शहरों में

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इस गणतंत्र दिवस पर राज्य के सभी शहरों की स्लम बस्तियों में रहने वालों को एक बड़ी सौगात दी है। अब यहां के रहवासियों को इलाज के लिए अस्पताल जाने या खून की जांच और अन्य स्वास्थ्य परीक्षण के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। अब उनके इलाके में मोबाइल…

अवैध रेत उत्खनन के विरूद्ध सख्त कार्रवाई के निर्देश

रायपुर । मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने अवैध रेत उत्खनन करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर और एसपी को निर्देश दिए हैं कि किसी भी जिले में अवैध रेत उत्खनन नहीं होना चाहिए। किसी भी जिले से अवैध रेत उत्खनन की शिकायत मिलने पर कलेक्टर और एसपी…

पीएमडी सीजी म्युजिक ने रि-लांच किया अपना चैनल….

पीएमडी सीजी म्युजिक ने दिलीप षडंगी के स्वर में दौना के पान के साथ अपना चैनल रि-लांच किया। आपको बता दें कि पीएमडी सीजी म्युजिक समय समय पर छत्तीसगढ़ी गाने लेकर आते रहा है। पीएमडी सीजी म्युजिक ने एक बार फिर दिलीप षडंगी की आवाज में दौना के पान के साथ अपना चैनल रि-लांच किया…

प्रभारी मंत्री ने किया कला केंद्र भवन का लोकार्पण

सूरजपुर। जिला प्रवास में प्रभारी मंत्री श्री शिव कुमार डहरिया ने आज नगर के वार्ड क्रमांक 16 में बने कला केंद्र भवन का फीता काटकर लोकार्पण किया। तत्पश्चात् माँ सरस्वती की छायात्रित पर पुष्पअर्पित कर दीप प्रज्जवलित किया गया।डा. शिव कुमार डहरिया ने कला केन्द्र के विभिन्न कक्षो का निरक्षण किया, जिसमें गायन कक्ष, नृत्य…

इसे भी पढ़ें  नंदिनी की खाली पड़ी माइंस में बनेगा भारत का सबसे बड़ा मानव निर्मित जंगल

​​​​​​​मंत्री श्री भगत ने ‘बुटेका एनीकट’ और ‘मारागांव तटबंध’ का किया निरीक्षण

रायपुर। खाद्य मंत्री एवं गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री श्री अमरजीत भगत ने ग्राम बेंदकुरा के समीप सोंढूर नदी पर बने बुटेका एनीकट का आकस्मिक निरीक्षण किया। मंत्री श्री भगत 26 जनवरी को जिला मुख्यालय में गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण के पश्चात एनीकट का अवलोकन करने पहुंचे थे। आसपास के ग्रामीणों ने इसके…

उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने दिव्यांग को बैटरी चलित ई-ट्राईसायकल प्रदान की

रायपुर। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री और दंतेवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री श्री कवासी लखमा ने बचेली स्थित रेस्ट हाउस परिसर में दिव्यांग श्री राम प्रसाद साहू को बैटरी चलित ई-ट्राईसायकल प्रदान किया। श्री राम प्रसाद साहू बचेली के वार्ड क्रमांक 5 के निवासी है, इससे पहले उन्हें सामान्य ट्राईसायकल उपलब्ध करायी गयी थी। बैटरी चलित…

कथित फर्जी डायरी कांड का 48 घंटे के भीतर पटाक्षेप

रायपुर। स्कूल शिक्षा विभाग के कथित फर्जी डायरी कांड का 48 घंटे के भीतर खुलासा करने पर रायपुर पुलिस का सम्मान किया गया है। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने रायपुर पुलिस के एसपी सहित पूरी टीम की सराहना की है। मंत्री डॉ. टेकाम ने आज सिविल लाईन स्थित पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचकर…

इसे भी पढ़ें  Tamda Ghumar Waterfall, Jagdalpur

राज्यपाल को नीट काउंसिलिंग संबंधी अनियमितता के संबंध में ज्ञापन दिया गया

रायपुर। राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से डॉ. कुलदीप सोलंकी ने भेंट कर राज्य में नीट परीक्षा की काउंसिलिंग की प्रक्रिया में नियमों की अनदेखी किए जाने के संबंध में ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि राज्य में अभी तक इसका रजिस्ट्रेशन शुरू नहीं किया गया है। यहां राज्य की मेरिट लिस्ट जारी किए बिना ही च्वाइस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *