The Jagannath Temple of Gayatri Nagar is the only temple in Chhattisgarh where Lord Jagannath’s Rath Yatra begins by the Chhattisgarh Chief (Governor and Chief Minister) performing the ritual of cleaning the route with a golden broom. It is known as Chhera-Pahara ritual.Apart from the Chief Minister, other ministers also find a way to serve the Lord in bringing the idol of God from the sanctum sanctorum to the outside. Devotees throng to see such a moment. Despite the tight security arrangements of the police personnel, there is no room left for the footing in the temple.

The temple was constructed three years after the formation of Chhattisgarh

The founder president of Shri Jagannath Temple Committee Purandar Mishra says that the foundation stone of the temple was laid during the year 2000 when the state of Chhattisgarh was formed. The construction of the temple was completed in 2003, three years after the formation of Chhattisgarh.

Pranapratishta was done by bringing idols from Odisha:-

Statues made from neem wood were brought from Odisha. The learned Acharyas of Puri Mool Mandir duly performed the idol of Lord Jagannath, Bhaiya Balabhadra and Sister Subhadra.

Makeup material is ordered from Puri:-

During the Rath Yatra festival, attire and ornaments are ordered from Puri for enchanting make-up. In the Puri temple, makeup is done on the same lines as the Lord’s makeup.

First temple of the state where brothers and sisters go on three chariots

In the temple located in Puri, Odisha, on three different chariots, the chariot journey is carried out by the Lord, his elder brother and sister. Similarly, this is also the first temple in Chhattisgarh where the journey on three chariots leaves. Lord Jagannath’s chariot is called ‘Nna Nandi Ghosh’ and elder brother Balabhadra’s chariot is called ‘Taladhwaj’ and sister Subhadra’s chariot is Dal Devadalan ‘chariot. Balaramji’s chariot is taken in front, Subhadraji’s chariot in the middle and Jagannathji’s chariot in the last.

इसे भी पढ़ें  Madwarani

Gundicha temple under the original temple:-

After duly worshiping in the sanctum sanctorum situated at a great height from the ground floor, the Lord is given a tour on the chariot to visit the areas of Gayatri Nagar, Sankaranagar, BTI Ground etc. After the Yatra, the Lord sits on the ground floor under the original temple for 10 days, which is called Mausi’s house (Gundicha Temple).

Sri Krishna-Arjuna’s Chariot Center of Attraction:-

A tableau presenting the scene of the Gita sermon given to Arjuna by Lord Sri Krishna mentioned in the Mahabharata is the center of attraction as soon as the temple enters through the main gate. The horse pulling the chariot made of stone and the statue of Sri Krishna in the form of a charioteer and Arjuna behind it is visible.

Booking is offered in the temple:-

Any devotee can offer khichdi and delicacies to Lord Jagannath. For this, booking has to be done in advance. In addition to the enjoyment of God, family, relatives, guests or all the members who have to have food will have to book it several days in advance. Many devotees come to the temple who make bookings on the birthday or other auspicious occasions of their family members to offer food to God and eat food.

Photo Gallery

न्यूज़ अपडेट

न्यूज़ अपडेट

IPL Schedule 2022 Announced

The schedule for the Indian Premier League 2022 (IPL 2022) season has been announced, with Chennai Super Kings set to face Kolkata Knight Riders in the opener at the Wankhede Stadium in Mumbai on March 26. The BCCI announced the full scheduled in a press release on Sunday. “The Board of Control for Cricket in India…

रेडी टू ईट निर्माण

रायपुर। छत्तीसगढ़ में रेडी टू ईट पोषण आहार निर्माण और वितरण व्यवस्था के संबंध में वर्तमान में जारी व्यवस्था मार्च 2022 तक लागू रहेगी। राज्य सरकार द्वारा इस संबंध में जारी की गई नई पॉलिसी का क्रियान्वयन एक फरवरी 2022 से होना था, इसेे अब एक अप्रैल 2022 तक के लिए बढ़ा दिया गया है।…

कोदो, कुटकी और रागी की खरीदी अब 15 फरवरी तक

रायपुर। छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर कोदो, कुटकी और रागी फसलों की खरीदी के लिए समयावधि अब 15 फरवरी 2022 तक बढ़ा दी गई है। इसके पहले इन फसलों की खरीदी के लिए 31 जनवरी तक की तिथि निर्धारित थी। गौरतलब है कि राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में वर्षा होने के कारण मिंजाई में हुई…

मानवीय हस्तक्षेप मुक्त होगी नल कनेक्शन प्रक्रिया

रायपुर। गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की थीम पर काम करते हुए छत्तीसगढ़ शासन नागरिकों की सुविधाओं का लगातार विस्तार कर रही है। आनलाइन सेवाओं की वजह से नागरिकों के काम घर बैठे हो रहे हैं। इसी कड़ी में अब नल कनेक्शन के लिए भी नागरिकों को नगरीय निकाय कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने होंगे। आम नागरिकों…

इसे भी पढ़ें  Rakasganda

मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना 21 फरवरी तक सभी शहरों में

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इस गणतंत्र दिवस पर राज्य के सभी शहरों की स्लम बस्तियों में रहने वालों को एक बड़ी सौगात दी है। अब यहां के रहवासियों को इलाज के लिए अस्पताल जाने या खून की जांच और अन्य स्वास्थ्य परीक्षण के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। अब उनके इलाके में मोबाइल…

अवैध रेत उत्खनन के विरूद्ध सख्त कार्रवाई के निर्देश

रायपुर । मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने अवैध रेत उत्खनन करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर और एसपी को निर्देश दिए हैं कि किसी भी जिले में अवैध रेत उत्खनन नहीं होना चाहिए। किसी भी जिले से अवैध रेत उत्खनन की शिकायत मिलने पर कलेक्टर और एसपी…

पीएमडी सीजी म्युजिक ने रि-लांच किया अपना चैनल….

पीएमडी सीजी म्युजिक ने दिलीप षडंगी के स्वर में दौना के पान के साथ अपना चैनल रि-लांच किया। आपको बता दें कि पीएमडी सीजी म्युजिक समय समय पर छत्तीसगढ़ी गाने लेकर आते रहा है। पीएमडी सीजी म्युजिक ने एक बार फिर दिलीप षडंगी की आवाज में दौना के पान के साथ अपना चैनल रि-लांच किया…

प्रभारी मंत्री ने किया कला केंद्र भवन का लोकार्पण

सूरजपुर। जिला प्रवास में प्रभारी मंत्री श्री शिव कुमार डहरिया ने आज नगर के वार्ड क्रमांक 16 में बने कला केंद्र भवन का फीता काटकर लोकार्पण किया। तत्पश्चात् माँ सरस्वती की छायात्रित पर पुष्पअर्पित कर दीप प्रज्जवलित किया गया।डा. शिव कुमार डहरिया ने कला केन्द्र के विभिन्न कक्षो का निरक्षण किया, जिसमें गायन कक्ष, नृत्य…

इसे भी पढ़ें  रायपुर महापौर ढेबर अयोध्या रवाना

​​​​​​​मंत्री श्री भगत ने ‘बुटेका एनीकट’ और ‘मारागांव तटबंध’ का किया निरीक्षण

रायपुर। खाद्य मंत्री एवं गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री श्री अमरजीत भगत ने ग्राम बेंदकुरा के समीप सोंढूर नदी पर बने बुटेका एनीकट का आकस्मिक निरीक्षण किया। मंत्री श्री भगत 26 जनवरी को जिला मुख्यालय में गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण के पश्चात एनीकट का अवलोकन करने पहुंचे थे। आसपास के ग्रामीणों ने इसके…

उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने दिव्यांग को बैटरी चलित ई-ट्राईसायकल प्रदान की

रायपुर। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री और दंतेवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री श्री कवासी लखमा ने बचेली स्थित रेस्ट हाउस परिसर में दिव्यांग श्री राम प्रसाद साहू को बैटरी चलित ई-ट्राईसायकल प्रदान किया। श्री राम प्रसाद साहू बचेली के वार्ड क्रमांक 5 के निवासी है, इससे पहले उन्हें सामान्य ट्राईसायकल उपलब्ध करायी गयी थी। बैटरी चलित…

कथित फर्जी डायरी कांड का 48 घंटे के भीतर पटाक्षेप

रायपुर। स्कूल शिक्षा विभाग के कथित फर्जी डायरी कांड का 48 घंटे के भीतर खुलासा करने पर रायपुर पुलिस का सम्मान किया गया है। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने रायपुर पुलिस के एसपी सहित पूरी टीम की सराहना की है। मंत्री डॉ. टेकाम ने आज सिविल लाईन स्थित पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचकर…

इसे भी पढ़ें  विकास कार्यों के साथ सौंदर्यीकरण को भी दे रहे है प्राथमिकता : मंत्री डॉ. डहरिया

राज्यपाल को नीट काउंसिलिंग संबंधी अनियमितता के संबंध में ज्ञापन दिया गया

रायपुर। राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से डॉ. कुलदीप सोलंकी ने भेंट कर राज्य में नीट परीक्षा की काउंसिलिंग की प्रक्रिया में नियमों की अनदेखी किए जाने के संबंध में ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि राज्य में अभी तक इसका रजिस्ट्रेशन शुरू नहीं किया गया है। यहां राज्य की मेरिट लिस्ट जारी किए बिना ही च्वाइस…

Leave a comment

Your email address will not be published.