कोरोना महामारी से पूरा विश्व वर्तमान में प्रभावित है। बेमेतरा जिला एवं छत्तीसगढ़ राज्य भी वर्तमान में इस महामारी के प्रकोप से अछूता नहीं है। जिला कलेक्टर श्री शिव अनंत तायल एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत बेमेतरा श्रीमती रीता यादव की अगुवाई में जिला प्रशासन द्वारा जिले में लॉकडाउन लगाया जा कर कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने  में काफी हद तक सफलता प्राप्त हुई है साथ ही शासन द्वारा प्राप्त निर्देशानुसार अधिक से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन करने का प्रयास भी किया जा रहा है।

         इस महामारी में जिले में प्रभाव सील लॉक डाउन के कारण आम जनों को हो रही आर्थिक समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुए ग्रामीण परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए श्रीमती रीता यादव मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत बेमेतरा के मार्गदर्शन में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत गांव गांव में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कार्य प्रारंभ किए जा रहे हैं। वर्तमान में जिले में लगभग 40000 श्रमिक कार्यरत हैं जिनको महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत निजी डबरी, नाली निर्माण, तालाब गहरीकरण, तालाब निर्माण, भूमि सुधार, नाला सफाई आदि कार्यों में नियोजित कर गांव में ही कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। गांव में ही रोजगार प्राप्त होने से ग्रामीण लोगों में ना केवल हर्ष व्याप्त है बल्कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था भी सुदृढ़ हो रही है। मुख्य कार्यपालन जिला पंचायत बेमेतरा श्रीमती रीता यादव के मार्गदर्शन में जिले के चारों विकास खंडों में महात्मा गांधी नरेगा के कार्य प्राथमिकता से स्वीकृत करते हुए प्रत्येक ग्राम पंचायत में कार्य प्रारंभ कराया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें  मनरेगा से बदल गई है अब फूलमती की जिंदगी

         कलेक्टर शिव अनंत तायल की अगुवाई में जिला प्रशासन द्वारा मनरेगा कार्य स्थल पर ही कोरोनावायरस जांच एवं टीकाकरण हेतु भी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही है जिससे कार्य स्थल पर ही अधिक से अधिक लोगों का कोरोना जांच एवं टीकाकरण हेतु पंजीयन आदि की कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके एवं आम जनों को इसके लिए परेशानियों का सामना ना करना पड़े। साथ ही मनरेगा कार्य स्थल पर ही ग्रामीणों को कोरोनावायरस से बचाव एवं अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है एवं किसी प्रकार के अफवाह में ना आने समझाई दी जा रही है।

         इस क्रम में जनपद पंचायत साजा अंतर्गत महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत संचालित कार्यों का निरीक्षण सुश्री कांति ध्रुव मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत साजा, अरविंद कश्यप कार्यक्रम अधिकारी जनपद पंचायत साजा, श्रीकांत साहू तकनीकी सहायक मनरेगा द्वारा ग्राम पंचायत केवतरा, चिल्फी बेंदर्ची, भेडरवाणी, बोड, शोमाईकला, आदि ग्राम पंचायतों का निरीक्षण कर श्रमिकों को टीकाकरण से लेकर कोरोनावायरस से बचाव के संदर्भ में विस्तृत जानकारी दी गई। साथ ही आगामी वर्षा ऋतु को दृष्टिगत रखते हुए वर्षा जल को यथासंभव रोकने हेतु प्रयास किए जाने के लिए ग्रामीणों को उत्साहित किया गया जिससे भूमिगत जल में वृद्धि हो सके। निरीक्षण के दौरान संबंधित ग्राम पंचायत के सरपंच सचिव रोजगार सहायक एवं अन्य लोग उपस्थित रहे।