buka-lake-korba-chhattisgarh
buka-lake-korba-chhattisgarh

The bunch of islands is located 65 km from Korba railway station. Buka Island is due to the huge reservoir of the Bango Dam, which creates endless ecological zones, sheltering millions of species and millions of water in many species. During the construction of the Mini Mata Bango Dam many villages, mountains, roadways, and forests have come under the catchment area, and, these partially sunken hills are now beautiful islands, but still many tribes live in these hills in many communities. Places were allocated to and connected to the world through wooden boats. You can find these tribes fishing on your island. Buka is through the rugged streets of the forests and socio-cultural lifestyles of the tribes. You can find some rare animals, snakes, birds if this is your day. The road is narrow along with the ups and downs, so one has to be a little careful while driving. At the end of the road, where the gloom begins, the right place is Buka. The place is surrounded by huge hills and green grass lay along the coast. It offers you a spectacular glimpse of sunrise and sunset while enjoying a boat safari along with the islands. Buka is a safe syllabus by the Forest Department of Chhattisgarh, it has developed financial advisors and resorts. All you can do here is camp firing, fishing, Marwari, sailing, painting. You can wake up early to walk late at night on the cherished grass and experience the sunrise among the hills. The camps here are equipped with chairs and beds. Here you can stay safe with your family. All the way, the boat will take you a few miles inside the water body, where you and the sky will be left alone. Sitting on the rocks, you can catch different sizes of fishes and bring some dry forest from the forest, prepare you to do everything delicious shake. At the end of the day you can track mountains carelessly in search of bears, but it will be dangerous. The water turns blue and the leaves of trees pale in strong sunlight, creating the most spectacular view.

इसे भी पढ़ें  सोलर लाईटों से जिले के गांव हो रहे रोशन

कोरबा में मौजूद बांगो बांध को छत्तीसगढ़ का मॉरीशस कहा जाता है। इस बांध को ये नाम पर्यटकों के द्वारा ही दिया गया है। हसदेव और चोरनई नदी के संगम में बना यह पर्यटन स्थल लोगोंं के बीच काफी मशहूर है। यह स्थान बिलासपुर-अंबिकापुर मार्ग से 10 किमी दूर केंदई गांव में मौजूद है। अपनी बनावट के कारण यह पर्यटकों के बीच मॉरीशस के नाम से मशहूर है। बांध के बीचो बीच पहाडिय़ां, चारो ओर हरे भरे पेड़ पौधे प्रकृति की सुंदरता को बढ़ाते हैं।

बुका के जंगलों और जनजातियों के सामाजिक-सांस्कृतिक जीवन शैली के बीहड़ सड़कों के माध्यम से है। आप कुछ दुर्लभ जानवरों, सांप, पक्षियों मिल सकता है अगर यह आपकी दिन है। सड़क उतार नीचे के साथ संकीर्ण है, इसलिए वाहन चलाते समय एक छोटे से सावधान रहना होगा। सड़क, जहां उदास शुरू होता है के अंत में, सही जगह बुका है।

जगह विशाल पहाड़ियों से घिरा हुआ है और हरी घास, तट के साथ रखना यह द्वीपों के साथ एक नाव सफारी का आनंद लेते हुए आप सूर्योदय और सूर्यास्त का एक शानदार झलक प्रदान करता है।

बुका सुरक्षित है छत्तीसगढ़ के वन विभाग द्वारा प्रबंधित, यह अर्द्ध शिविरों और रिसोर्ट्स विकसित की है। सभी आप यहाँ कर सकते शिविर फायरिंग, मछली पकड़ना, घुड़सवारी, नौकायन, ट्रैकिंग है। आप पोषित घास पर देर रात चलने और पहाड़ियों के बीच सूर्योदय अनुभव करने के लिए सुबह जल्दी जगा सकते हैं।

Buka, Korba Photo Gallery

पहुँच मार्ग

सड़क के माध्यम

कोरबा से कोरबा-अंबिकापुर के रास्ते पर है, कटघोरा (एनएच 130) के माध्यम से। फिर मदाई गांव (कटघोरा से 30 किमी), और बुका के लिए सीधे 14 किमी से बदल जाते हैं।

इसे भी पढ़ें  मनरेगा : जिले के 55 हजार से अधिक परिवारों को मिला रोजगार

हवाई अड्डा के माध्यम से

रायपुर हवाई अड्डा- रायपुर से कोरबा के लिए लगातार गाड़ियों।

रेल के माध्यम से

कोरबा रेलवे स्टेशन 65 किलोमीटर दूर,

Buka, Korba FAQs

Is Buka (Korba) islands natural or man-made?

Buka Island is due to the huge reservoir of the Bango Dam. During the construction of the Mini Mata Bango Dam many villages, mountains, roadways, and forests have come under the catchment area, and, these partially sunken hills are now beautiful islands

Is boating allowed in Buka?

Yes boating is allowed in Buka (Korba)

What activities are allowed in Buka

In Buka one can do camp firing, fishing, Marwari, sailing, and painting. The sheer beauty of the lakes in Buka along with mountains allow for a surreal photography experience. The lakes offer the most picturesque scenes.

न्यूज़ अपडेट

न्यूज़ अपडेट

IPL Schedule 2022 Announced

The schedule for the Indian Premier League 2022 (IPL 2022) season has been announced, with Chennai Super Kings set to face Kolkata Knight Riders in the opener at the Wankhede Stadium in Mumbai on March 26. The BCCI announced the full scheduled in a press release on Sunday. “The Board of Control for Cricket in India…

रेडी टू ईट निर्माण

रायपुर। छत्तीसगढ़ में रेडी टू ईट पोषण आहार निर्माण और वितरण व्यवस्था के संबंध में वर्तमान में जारी व्यवस्था मार्च 2022 तक लागू रहेगी। राज्य सरकार द्वारा इस संबंध में जारी की गई नई पॉलिसी का क्रियान्वयन एक फरवरी 2022 से होना था, इसेे अब एक अप्रैल 2022 तक के लिए बढ़ा दिया गया है।…

कोदो, कुटकी और रागी की खरीदी अब 15 फरवरी तक

रायपुर। छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर कोदो, कुटकी और रागी फसलों की खरीदी के लिए समयावधि अब 15 फरवरी 2022 तक बढ़ा दी गई है। इसके पहले इन फसलों की खरीदी के लिए 31 जनवरी तक की तिथि निर्धारित थी। गौरतलब है कि राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में वर्षा होने के कारण मिंजाई में हुई…

मानवीय हस्तक्षेप मुक्त होगी नल कनेक्शन प्रक्रिया

रायपुर। गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की थीम पर काम करते हुए छत्तीसगढ़ शासन नागरिकों की सुविधाओं का लगातार विस्तार कर रही है। आनलाइन सेवाओं की वजह से नागरिकों के काम घर बैठे हो रहे हैं। इसी कड़ी में अब नल कनेक्शन के लिए भी नागरिकों को नगरीय निकाय कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने होंगे। आम नागरिकों…

इसे भी पढ़ें  कोरबा: खरीफ-रबी फसलों, फलदार वृक्ष, साग-सब्जी एवं मसालें फसलों के लिए ऋणमान तय

मुख्यमंत्री स्लम स्वास्थ्य योजना 21 फरवरी तक सभी शहरों में

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इस गणतंत्र दिवस पर राज्य के सभी शहरों की स्लम बस्तियों में रहने वालों को एक बड़ी सौगात दी है। अब यहां के रहवासियों को इलाज के लिए अस्पताल जाने या खून की जांच और अन्य स्वास्थ्य परीक्षण के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। अब उनके इलाके में मोबाइल…

अवैध रेत उत्खनन के विरूद्ध सख्त कार्रवाई के निर्देश

रायपुर । मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने अवैध रेत उत्खनन करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कलेक्टर और एसपी को निर्देश दिए हैं कि किसी भी जिले में अवैध रेत उत्खनन नहीं होना चाहिए। किसी भी जिले से अवैध रेत उत्खनन की शिकायत मिलने पर कलेक्टर और एसपी…

पीएमडी सीजी म्युजिक ने रि-लांच किया अपना चैनल….

पीएमडी सीजी म्युजिक ने दिलीप षडंगी के स्वर में दौना के पान के साथ अपना चैनल रि-लांच किया। आपको बता दें कि पीएमडी सीजी म्युजिक समय समय पर छत्तीसगढ़ी गाने लेकर आते रहा है। पीएमडी सीजी म्युजिक ने एक बार फिर दिलीप षडंगी की आवाज में दौना के पान के साथ अपना चैनल रि-लांच किया…

प्रभारी मंत्री ने किया कला केंद्र भवन का लोकार्पण

सूरजपुर। जिला प्रवास में प्रभारी मंत्री श्री शिव कुमार डहरिया ने आज नगर के वार्ड क्रमांक 16 में बने कला केंद्र भवन का फीता काटकर लोकार्पण किया। तत्पश्चात् माँ सरस्वती की छायात्रित पर पुष्पअर्पित कर दीप प्रज्जवलित किया गया।डा. शिव कुमार डहरिया ने कला केन्द्र के विभिन्न कक्षो का निरक्षण किया, जिसमें गायन कक्ष, नृत्य…

इसे भी पढ़ें  मनरेगा : जिले के 55 हजार से अधिक परिवारों को मिला रोजगार

​​​​​​​मंत्री श्री भगत ने ‘बुटेका एनीकट’ और ‘मारागांव तटबंध’ का किया निरीक्षण

रायपुर। खाद्य मंत्री एवं गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री श्री अमरजीत भगत ने ग्राम बेंदकुरा के समीप सोंढूर नदी पर बने बुटेका एनीकट का आकस्मिक निरीक्षण किया। मंत्री श्री भगत 26 जनवरी को जिला मुख्यालय में गणतंत्र दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण के पश्चात एनीकट का अवलोकन करने पहुंचे थे। आसपास के ग्रामीणों ने इसके…

उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने दिव्यांग को बैटरी चलित ई-ट्राईसायकल प्रदान की

रायपुर। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री और दंतेवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री श्री कवासी लखमा ने बचेली स्थित रेस्ट हाउस परिसर में दिव्यांग श्री राम प्रसाद साहू को बैटरी चलित ई-ट्राईसायकल प्रदान किया। श्री राम प्रसाद साहू बचेली के वार्ड क्रमांक 5 के निवासी है, इससे पहले उन्हें सामान्य ट्राईसायकल उपलब्ध करायी गयी थी। बैटरी चलित…

कथित फर्जी डायरी कांड का 48 घंटे के भीतर पटाक्षेप

रायपुर। स्कूल शिक्षा विभाग के कथित फर्जी डायरी कांड का 48 घंटे के भीतर खुलासा करने पर रायपुर पुलिस का सम्मान किया गया है। स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने रायपुर पुलिस के एसपी सहित पूरी टीम की सराहना की है। मंत्री डॉ. टेकाम ने आज सिविल लाईन स्थित पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचकर…

इसे भी पढ़ें  कृषि चौपाल में शामिल हुए राजस्व मंत्री

राज्यपाल को नीट काउंसिलिंग संबंधी अनियमितता के संबंध में ज्ञापन दिया गया

रायपुर। राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके से डॉ. कुलदीप सोलंकी ने भेंट कर राज्य में नीट परीक्षा की काउंसिलिंग की प्रक्रिया में नियमों की अनदेखी किए जाने के संबंध में ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि राज्य में अभी तक इसका रजिस्ट्रेशन शुरू नहीं किया गया है। यहां राज्य की मेरिट लिस्ट जारी किए बिना ही च्वाइस…